Homeख़ासहरियाणा मे बारिश के चार दिन बाद भी गांव की गलियों और...

हरियाणा मे बारिश के चार दिन बाद भी गांव की गलियों और खेतों में जलभराव, पड़ताल के दौरान ग्रामीणों का दर्द छलका

Published on

बरसात के चार दिन बाद भी गांव करौंथा की गलियों और शिमली के खेतों में अभी भी पानी जमा है। आलम यह है कि खेतों में किसानों को आवागमन करने में परेशानियां हो रही है तो गांवों घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। अभियान के तहत दैनिक जागरण की टीम ने वीरवार को करौंथा व शिमली गांव पहंची। पड़ताल के दौरान ग्रामीणों का दर्द छलका। करौंथा के ग्रामीणों ने बताया कि बरसाती पानी से एक ओर जहां गांव की कुछ गलियों में अब भी जलभराव है वहीं खेतों में फसलें भी डूबी हैं। गलियों में पानी खड़ा रहने की बात की जाए तो केवल करौंथा गांव में अभी तक यह समस्या बनी हुई है।

गांव की गलियों में जलभराव से मुश्किल में ग्रामीण, खेतों में पानी से फसलें हो रही प्रभावित



शिमली गांव में धान की फसल बुरी तरह प्रभावित हो रही है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर समय रहते इन गांवों से बरसाती पानी की निकासी नहीं की गई तो फसलें बर्बाद हो सकती है। घरों के बाहर जलभराव होने से बच्चों का खेलना भी बंद हो गया है। ग्रामीणों का कहना है कि अधिकारियों की ओर से गांव की सुध नहीं ली जा रही है। घरों के बाहर पिछले एक सप्ताह से जलभराव बना हुआ है। इसकी निकासी न होने से बीमारी फैलने की आशंका बनी हुई है। ग्रामीणों ने कहा कि अगर फिर से बरसात हुई तो मुश्किलें और बढ़ सकती हैं।

ग्रामीणों के अनुसार



गांव में खाली प्लाटों व पंचायती जमीन पर जलभराव बना हुआ है। अधिकारियों को इसकी जानकारी दी गई है लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। गलियों व घरों में जमा पानी को अपने स्तर पर ही बाहर निकाला गया है। पंचायत व प्रशासन से कोई मदद नहीं मिली है। जलभराव से फर्श व दिवारों में दरारें भी आ गई हैं।

Avinash Kumar Singh
Avinash Kumar Singh
A writer by passion | Journalist by profession Loves to explore new things and travel. I Book Lover, Passionate about my work, in love with my family, and dedicated to spreading light.

Latest articles

पहली बार हरियाणा सरकार ने दर्जन सरकारी विभागों को आपस में किया विलय, होगा मंत्रियों के विभागों में फेरबदल

हरियाणा सरकार इन दिनों जनता को सुविधा देने के लिए आए दिन कुछ ना कुछ नए कदम उठा रही है। अब करीब दो दर्जन...

1 जनवरी से NCR के शहरों में पंजीकृत होंगे सिर्फ़ सीएनजी व इलेक्ट्रिक ऑटो, जल्द बंद होंगे डीजल से चलने वाले ऑटो रिक्शा

देश में औद्योगीकरण और वाहनों के बढ़ते हुए प्रदूषण को देखते हुए सरकार ने एक फ़ैसला लिया है, जिसका सीधा असर ऑटो चालकों पर...

हरियाणा के इस जिले जल्द बनेगा अरावली वन्यजीवों के लिए नया रेस्क्यू सेंटर, इसमें बीमार जीवो को भी मिलेगा संरक्षण

हरियाणा में स्थित अरावली की पहाड़ियां विश्व की सबसे पुरानी पहाड़ियों में से एक है। इसके साथ ही अरावली की इन पहाड़ियों में कई...

हरियाणा में सोमवार को हो सकती है छुट्टी,ये होगी इस छुट्टी की वजह

आने वाले सोमवार यानि की 5 दिसंबर के लिए एक बार फिर से हरियाणा सरकार ने छुट्टी की घोषणा कर दी है। ये छुट्टी...

हरियाणा वासी दे ध्यान, पंचायत चुनाव के बाद इन जिलों में नगर निगम के चुनाव हो सकते हैं एक साथ

अभी हाल ही में पूरे हरियाणा में पंचायत चुनाव‌ खत्म ही हुए हैं, लेकिन...

सर्दियों के चलते हरियाणा के स्कूलों में बदली टाइमिंग, अब इस नए टाइम से लगेंगे स्कूल

दिसंबर का महीना आ गया है,ऐसे में सर्दी आए दिन बढ़ती जा रही है।...

1 जनवरी से NCR के शहरों में पंजीकृत होंगे सिर्फ़ सीएनजी व इलेक्ट्रिक ऑटो, जल्द बंद होंगे डीजल से चलने वाले ऑटो रिक्शा

देश में औद्योगीकरण और वाहनों के बढ़ते हुए प्रदूषण को देखते हुए सरकार ने...

More like this

1 जनवरी से NCR के शहरों में पंजीकृत होंगे सिर्फ़ सीएनजी व इलेक्ट्रिक ऑटो, जल्द बंद होंगे डीजल से चलने वाले ऑटो रिक्शा

देश में औद्योगीकरण और वाहनों के बढ़ते हुए प्रदूषण को देखते हुए सरकार ने...

हरियाणा के इस जिले जल्द बनेगा अरावली वन्यजीवों के लिए नया रेस्क्यू सेंटर, इसमें बीमार जीवो को भी मिलेगा संरक्षण

हरियाणा में स्थित अरावली की पहाड़ियां विश्व की सबसे पुरानी पहाड़ियों में से एक...

हरियाणा के नए पंच और सरपंच आज करेंगे शपथ ग्रहण, सीएम मनोहरलाल खट्टर भी जुड़ेंगे ऑनलाइन माध्यम से

आज सुबह 11 बजे हरियाणा के 22 जिलों में नवनिर्वाचित पंच और सरपंच शपथ...