Homeख़ासअब हरियाणा में भी होगी ऑनलाइनफूलों की बिक्री, इस जिले में बनेगीइंटरनेशनल...

अब हरियाणा में भी होगी ऑनलाइनफूलों की बिक्री, इस जिले में बनेगीइंटरनेशनल फूल मंडी

Published on

आपको बता दें कि कृषि एवं पशुपालन तथा मत्स्य मंत्री जेपी दलाल डेलीगेशन के साथ बागवानी तथा कृषि क्षेत्र में नई- नई तकनीकी जानकारी प्राप्त करने के लिए यूरोपीय देशों के दौरे पर गए हुए हैं. उन्होंने हॉलेण्ड में अलसमीर फ्लोरा Market का दौरा किया और वहां फुलों की हर रोज की जा रही Online नीलामी प्रक्रिया का अवलोकन भी किया है.

बनाई जाएगी फूल मंडी


मंत्री जी ने फ्लोरा मार्केट से प्रेरित होकर कहा है कि हरियाणा के गुरुग्राम में भी इसी तकनीकी के आधार पर आधुनिक स्तर की ग्लोबल फूल मंडी का निर्माण किया जाएगा. इस मंडी द्वारा यहां के फूलों का विदेशों में निर्यात किया जाएगा. इससे हरियाणा के साथ- साथ NCR के फूल उत्पादक किसानों की आय में भी बढोतरी होगी. कृषि विभाग की ACS सुमिता मिश्रा भी उनके साथ हालैंड दौरे पर हैं.

बाहर से आते हैं फूल


इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि इस मार्केट में लगभग 44 मिलियन फूल रोजाना बाहर से आ रहा है और उसकी 30% नीलामी में स्थानीय नीलामी दाता तथा 70 % नीलामी में अन्य देशों के लोग भाग ले रहे है. उन्होंने यह भी बताया कि इस प्रक्रिया में सभी फूलों की नीलामी का कार्य ऑटोमेटिक और इलेक्ट्रोनिकली डच सिस्टम के तहत नीचे से ऊपर तक किया जाता है जिसमें बोली दाता न्यूनतम निर्धारित कीमत पर हाथों हाथ नीलामी देता है. बोर्ड पर 24 घंटे फूलों के उत्पाद, हर फूल की लम्बाई, साईज और संख्या की विस्तृत जानकारी अंकित होती है.



होता है ऑनलाइन भुगतान

कृषि मंत्री ने यह भी बताया कि बोली के बाद सफल बोली दाता उत्पाद की डिलीवरी लेने से पहले ऑनलाइन ही भुगतान करता है. फूलों की देखभाल एवं सम्भाल के लिए बड़े स्तर का वातानुकुलित हॉल होता है जिसमें फूलों का रख- रखाव करने के लिए 9 से 12 डिग्री तक गैलरी एरिया में भी तापमान होता है. मार्केट में दो बडे स्तर की 10 फीट चौड़ाई की गैलरी बनाई जाती है जो पूरी मार्केट का संचालन करती है.



1962 में हुई थी मार्केट की स्थापना

मार्केट के बारे में संपूर्ण जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि इस मार्केट को 1962 में स्थापित किया गया था, और अब इसे समय- समय पर अपग्रेड किया जा रहा है. साइज में हॉल का कुल एरिया फुटबाल मैदान से 250 गुणा बड़ा होता है. इस फूल व्यापार मार्केट का वार्षिक टर्न ओवर लगभग 30 हजार करोड़ है और लगभग 5000 से अधिक फूल उत्पादक एवं सप्लायर इससे जुड़े हुए है. जो हर रोज 80 % फूलों की सप्लाई बाहर निर्यात कर रहे है.



उपलब्ध कराया जाएगा बेहतर प्लेटफार्म

कृषि मंत्री ने कहा कि हरियाणा के एनसीआर क्षेत्र में इस तरह की फूल मार्केट बनाकर लोगों को बेहतर प्लेटफार्म उपलब्ध करवाया जा सकता है. इसके लिए कृषि मंत्री के साथ विदेश गए दल ने विस्तार से मार्केट में व्यापारियों के साथ बातचीत कर उनके अनुभव भी सांझा किए. उन्होंने कहा कि हालेंड की फूल मंडी की तर्ज पर गुरुग्राम में भी इसी तकनीकी के आधार पर विशाल फूल मंडी का निर्माण किया जाएगा, जिससे किसानों की आर्थिक दशा में सुधार आएगा. इस मंडी से विदेशों में फूलों का निर्यात होगा और हरियाणा सहित पूरे एनसीआर के फूल उत्पादक किसानों को फायदा मिलेगा.

Avinash Kumar Singh
Avinash Kumar Singh
A writer by passion | Journalist by profession Loves to explore new things and travel. I Book Lover, Passionate about my work, in love with my family, and dedicated to spreading light.

Latest articles

अंबाला रोडवेज डिपो को जल्द मिलेंगे नई एसी बस, यहां जानें क्या होगा रूट

लोगों की यात्रा सुविधाजनक और लाभदायक बनाने के लिए, जल्द ही हरियाणा रोडवेज अंबाला डिपो को 4 नई बसें मिलेंगी। इन चार बसों में...

हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा का बड़ा फैसला, इतने हज़ार तिपहिया और दोपहिया का EV मुफ्त होगा पंजीकरण

हरियाणा में बड़ते पॉल्यूशन को देखते हुए अब हरियाणा में भी दिल्ली की तरह इलेक्ट्रिक वाहन चलेंगे। इन वाहनों पर हरियाणा के परिवहन मंत्री...

हरियाणा के वाहन चालक अब चला सकते हैं वीआईपी नंबर का वाहन,सरकारी वाहनों के लिए अलग होगी नंबर सीरीज

हरियाणा में जिन लोगों को वीआईपी नंबर का वाहन चलाने का शौक, अब उनका शौक जल्दी ही पूरा होने वाला है। क्योंकि अब बहुत...

हरियाणा की ये बेटी पहुंची किक बॉक्सिंग के वर्ल्ड रैंकिंग टॉप-3 में, यहां जानें कौन है वो बहादुर बेटी

म्हारी छोरियां छोरों से कम है के दंगल मूवी का ये डायलॉग कहीं और की बेटियों के ऊपर फिट बैठे या ना बैठे पर...

हरियाणा के वाहन चालक अब चला सकते हैं वीआईपी नंबर का वाहन,सरकारी वाहनों के लिए अलग होगी नंबर सीरीज

हरियाणा में जिन लोगों को वीआईपी नंबर का वाहन चलाने का शौक, अब उनका...

आपस में विवाह करने वाले IAS व IPS अधिकारियों के कैडर बदले, इसमें हरियाणा की IAS रेणु सोगन भी शामिल

बीते कुछ समय से आपस में विवाह करने वाले IAS व IPS अधिकारियों के...

हरियाणा के इस जिले में अब कचरे का होगा पुनः उपयोग, बेकार बोतलो और कांच के टुकड़े से बनेंगी चूड़ियां

दिनों दिन बढ़ते कूड़े की समस्या को देखते हुए अंबालानगर परिषद सदर क्षेत्र ने...

More like this

अंबाला रोडवेज डिपो को जल्द मिलेंगे नई एसी बस, यहां जानें क्या होगा रूट

लोगों की यात्रा सुविधाजनक और लाभदायक बनाने के लिए, जल्द ही हरियाणा रोडवेज अंबाला...

हरियाणा की ये बेटी पहुंची किक बॉक्सिंग के वर्ल्ड रैंकिंग टॉप-3 में, यहां जानें कौन है वो बहादुर बेटी

म्हारी छोरियां छोरों से कम है के दंगल मूवी का ये डायलॉग कहीं और...

तीर्थ स्थलों के दर्शन करने के इच्छुक के लिए खुशखबरी, जल्द चलेंगी हरियाणा रोडवेज की एसी बसें, यहां जानें क्या होगा रूट

हरियाणा में तीर्थ स्थलों के दर्शन करने वाले इच्छुको के लिए एक खुशखबरी है।...