Homeजिलाअंबालाहरियाणा के 12 जिलों में मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट,...

हरियाणा के 12 जिलों में मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट, होगी मूसलाधार बारिश

Published on

हरियाणा में मानसून फिर एक्टिव हो गया है। मौसम विभाग के जानकरी अनुसार हरियाणा में कल भी बारिश को लेकर यलो और ऑरेंज अलर्ट की चेतावनी दी है। सूबे के 4 जिले अंबाला, करनाल, कुरुक्षेत्र और कैथल में भारी बारिश को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

अन्य जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की मौसम विभाग ने संभावना जताई है, इसलिए इन जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में महेंद्रगढ़, रेवाड़ी, झज्जर, गुरुग्राम, मेवात, पलवल, फरीदाबाद, रोहतक, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, चरखी दादरी शामिल हैं।


मौसम विभाग ने संभावना जताई है जिन जिलों में भारी बारिश होगी वहां 200 एमएम से अधिक बारिश होने की आशंका है। यलो अलर्ट वाले जिलों में 200 मिलीमीटर से कम बारिश होने की आशंका है। हरियाणा में 11 जुलाई से बाढ़ के हालात बनने शुरू हो गए थे, अभी भी कई जगह जलभराव है। इससे बीमारियां फैलने का खतरा भी बढ़ने लगा है।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, सूबे में अब तक बुखार के 8125, पेट से जुड़ी बीमारियों के 1932, आई फ्लू के 3 हजार, त्वचा से संबंधित रोग के 10444 व अन्य रोगों के 35249 मरीज मिल चुके हैं। इसके अलावा सांप काटने के 44 मामले सामने आए और 2 लोगों की मौत हुई है।

अंबाला में मारकंडा व बेगना नदी का पानी खेतों से होते हुए अंबाला-रुड़की नेशनल हाईवे-344 पर आ गया। यह पानी पहले से ही बाढ़ग्रस्त 5 गांवों में भी घुस गया है। इसलिए अंबाला कैंट प्रशासन की ओर से मुनादी कराई गई है। कुरुक्षेत्र में मारकंडा का जलस्तर बढ़ा हुआ है। हालांकि सरकार की ओर से दावा किया जा रहा है कि राज्य में बाढ़ को लेकर हालात अब सामान्य होने लगे हैं।


पलवल में यमुना नदी में आई बाढ़ के पानी में डूबने से बागपुर (खादर) में एक 73 वर्षीय किसान की मौत हो गई। किसान अपने खेत में फसल देखने के लिए जा रहा था। पैर फिसलने से किसान बाढ़ के पानी से बने गड्ढे में जा गिरा और पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई। बागपुर चौकी पुलिस ने परिजनों के बयान पर बुजुर्ग किसान के शव को पोस्टमॉर्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया।

बता दें की हरियाणा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार, डेंगू मच्छर का लारवा 3 दिन में ही पनप रहा है। इस बार बारिश के बाद उमस तेजी से बढ़ी है, जो लारवा के पनपने के लिए अनुकूल है। ऐसे में लोगों को ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है। कहीं भी पानी जमा न होने दें। डेंगू से 4 जिलों की हालत सबसे ज्यादा खराब है। जींद में अब तक 50 केस सामने आ चुके हैं।

वहीं यमुनानगर में 14, रोहतक में 13, रेवाड़ी में 15 और सोनीपत में 8 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। नूंह में एक मरीज की मौत भी हुई है। इसके अलावा मलेरिया के 18 और चिकनगुनिया के 3 कंफर्म केस आ चुके हैं।

Latest articles

अब Haryana के इन रूटों पर वंदे भारत समेत कई ट्रेनें दौड़ेंगी 130 की स्पीड से, सफर होगा आसान

हरियाणा सरकार जनता के लिए हमेशा कुछ ना कुछ अच्छा करती रहती है। जिससे कि उनका काम आसान हो सके। वह आसानी से कहीं...

हरियाणा के इन जिलों में बनेंगे नए Railway Track, सफर होगा आसान

हरियाणा से और राज्यों को जोड़ने के लिए व जिलों में कनेक्टिविटी के लिए हरियाणा सरकार रोजाना कुछ न कुछ करती की रहती है।...

Haryana में इन लोगो को मिलेंगे E-Smart Card, रोडवेज में कर सकेंगे Free यात्रा, जाने पूरी खबर

लोगों की सुविधा के लिए हरियाणा सरकार हर संभव प्रयास करती है कि गरीब लोगों को किसी के आगे हाथ फैलाने की जरूरत ना...

हरियाणा और पंजाब में इन दोनों हो सकती है भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

वर्तमान में देखा जाए तो देश के कई हिस्सों में ठंड और कोहरा सक्रिय होता हुआ नजर रहा है। ठंडी हवाएं चलनी शुरू हो...

More like this

अब Haryana के इन रूटों पर वंदे भारत समेत कई ट्रेनें दौड़ेंगी 130 की स्पीड से, सफर होगा आसान

हरियाणा सरकार जनता के लिए हमेशा कुछ ना कुछ अच्छा करती रहती है। जिससे...

हरियाणा के इन जिलों में बनेंगे नए Railway Track, सफर होगा आसान

हरियाणा से और राज्यों को जोड़ने के लिए व जिलों में कनेक्टिविटी के लिए...

Haryana में इन लोगो को मिलेंगे E-Smart Card, रोडवेज में कर सकेंगे Free यात्रा, जाने पूरी खबर

लोगों की सुविधा के लिए हरियाणा सरकार हर संभव प्रयास करती है कि गरीब...