Homeकुछ भीधान की जगह अगर किसान उगाएंगे यह फसलें तो हरियाणा सरकार देगी...

धान की जगह अगर किसान उगाएंगे यह फसलें तो हरियाणा सरकार देगी 7000 रुपए

Published on

वर्तमान समय में बढ़ती आबादी के कारण पानी की उपलब्धता में तेजी से कमी होती जा रही है। अगर समय रहते जल संरक्षण पर ध्यान नहीं दिया गया तो भविष्य में प्रत्येक व्यक्ति के लिए पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करना एक बड़ी चुनौती होगी। इसी को देखते हुए हरियाणा सरकार ने जल संरक्षण के प्रयास अभी से तेज कर दिए हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की दूरगामी सोच के फलस्वरूप हरियाणा सरकार द्वारा जल संरक्षण की दिशा में सराहनीय कार्य किया जा रहा है। जल ही जीवन है और प्रदेश में जल की उपलब्धता कैसे अधिक से अधिक हो, इसके लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री का मानना है कि पानी का प्रबंधन सही हो तो हम पानी को बचा सकते हैं।

प्रदेश में कम होते भूजल स्तर और राज्य में पानी की मांग को देखते हुए जल संरक्षण के नए-नए तरीकों की अपनाया जा रहा है। अरावली व शिवालिक की पहाडिय़ों में छोटे-छोटे झरनों के माध्यम से व्यर्थ बह रहे पानी को बांध बनाकर संरक्षित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि तालाब, बावड़ी और झीलों के संरक्षण के लिए बारिश के पानी का संचय किया जाना चाहिए।

ध्यान देने वाली बात यह है कि देश में मानसूनी वर्षा जल आपूर्ति का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत है लेकिन वर्तमान में वर्षा जल का समुचित संग्रह एवं संचयन न होने के कारण, इसका एक बड़ा हिस्सा बहकर निकल जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए हरियाणा सरकार ने व्यर्थ बह रहे पानी को बांध बनाकर संरक्षित कर वर्षा जल संचयन का बीड़ा उठाया है।

मेरा पानी मेरी विरासत योजना भी जल संरक्षण में काफी अहम

इसके साथ ही जल संरक्षण के लिए सरकार की ओर से कई योजनाएं भी चलाई जा रही हैं। मेरा पानी मेरी विरासत योजना भी जल संरक्षण में काफी अहम भूमिका निभा रही है। हरियाणा सरकार की इस अनूठी योजना के सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे हैं। किसानों का रुझान धान जैसी अधिक पानी से तैयार होने वाली फसलों की बजाय अन्य फसलों की ओर बढ़ा है। राज्य में लगभग 37 लाख एकड़ में धान की खेती की जाती है जो गिरते भू-जल स्तर का मुख्य कारण है।

हालांकि हरियाणा सरकार की मेरा पानी मेरी विरासत योजना के तहत वर्ष 2021 में 32196 किसानों ने 51874 एकड़ क्षेत्र में धान के स्थान पर अन्य फसलों की बुआई की और 7000 रुपये प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि का लाभ लिया। उल्लेखनीय है कि इस योजना के तहत धान के स्थान पर कम पानी से तैयार होने वाली अन्य वैकल्पिक फसलों को अपनाने पर किसानों को 7 हजार रुपये प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

माइक्रो इरिगेशन अपनाने के लिए भी किसानों को प्रोत्साहन

वहीं प्रदेश में किसानों को माइक्रो इरिगेशन अपनाने के लिए भी प्रोत्साहन दिया जा रहा है। सूक्ष्म सिंचाई के उपकरणों पर सरकार द्वारा खासा अनुदान दिया जा रहा है। खेत में तालाब निर्माण के लिए किसान को कुल खर्च पर 70 प्रतिशत की सब्सिडी मिलेगी और उसे केवल 30 प्रतिशत राशि ही देनी होगी।

इसी तरह 2 एचपी से 10 एचपी तक की क्षमता वाले सोलर पंप की स्थापना के लिए किसान को 25 प्रतिशत राशि देनी होगी और उसे 75 प्रतिशत सब्सिडी मिलेगी। सूक्ष्म सिंचाई से ना केवल किसानों को पूरा पानी मिलेगा, बल्कि आगामी कई सालों तक खेती के लिए पर्याप्त पानी का पक्का प्रबंध हो जाएगा।

Latest articles

निर्धारित स्पीड से तेज दौड़ा रहे है हरियाणा के युवा दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर अपनी कार, 4 दिन में किए 50 गाड़ियों के चालान

जैसा की आप सभी को पता है कि आप दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे पर गाड़ियां दौड़ने शुरू हो गई है। लेकिन अभी उसे शुरू...

हरियाणा की बेटी बनी मिसाल, हफ्ते में दो दिन की पढ़ाई से यूपीएससी में हासिल की 11वीं रैंक

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं कि देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक यूपीएससी परीक्षा है। जिसको पास करना हर किसी...

मां की साड़ी पहनकर एकदम अप्सरा लग रही थी सुहाना खान, देखे वायरल तस्वीरें

यह तो हम सभी जानते ही हैं कि बॉलीवुड का किंग अभिनेता शाहरुख खान को कहा जाता है और वह अक्सर सोशल मीडिया पर...

नवरात्रि के व्रत में नहीं करना चाहिए इस नमक का सेवन, जानिए कौन सा

जैसे कि आप सभी का पता ही है कि चैत्र नवरात्रि के व्रत 22 मार्च 2023 से शुरू हो चुके हैं। हिंदू धर्म में...

पशुपालक ध्यान दे! हाईटेक डेयरी खोलने पर हरियाणा सरकार देगी अनुदान, ऐसे मिलेंगे लाभ

हरियाणा सरकार किसानों के लिए वह हर संभव प्रयास करती है जिससे कि उनकी...

हरियाणा की छोरी ने कर दिखाया कमाल, गोल्ड पंच लगाकर जीती विश्व बॉक्सिंग चैंपियनशिप

आज के समय में बेटियां किसी से भी पीछे नहीं है। हर वर्ग में...

पंजाब के शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस और हरियाणा से निकली IPS ज्योति यादव ने बनाया जन्मों जन्म का नाता

शादी हमारे समाज में बहुत ही पवित्र बंधन माना जाता है। ऐसा कहा जाता...

More like this

Sanjay Dutt: 350 लड़कियों के साथ रात गुजार चुके हैं संजय दत्त, लिस्ट में यह मशहूर अभिनेत्रियां भी शामिल

बॉलीवुड जगत के सबसे प्रसिद्ध और कॉन्ट्रोवर्सी में रहने वाले संजय दत्त (Sanjay Dutt...

साउथ फिल्म जगत के स्टार्स की पत्नियां है हुस्न की परी, खूबसूरती के मामले में लगती है मिस यूनिवर्स 

साउथ जगत की फिल्मों का आज हर तरफ़ बोल बाला हैं। इनकी फिल्मों के...

ऐश्वर्या राय की भाभी खूबसूरती और फिगर के मामले में नोरा फतेही को टक्कर, खुद ऐश्वर्या को देती है टक्कर

बॉलीवुड जगत की जानी-मानी अभिनेत्री ऐश्वर्या राय ने अपने अभिनय और ग्लैमर के ऊपर...