Homeकुछ भीहरियाणा: अब गर्मी में इंसान ही नहीं बल्कि भैंस भी उठाएंगे स्विमिंग...

हरियाणा: अब गर्मी में इंसान ही नहीं बल्कि भैंस भी उठाएंगे स्विमिंग पूल का मजा, बना यह स्पेशल पूल

Published on

गर्मी की वजह से केवल इंसान ही नहीं बल्कि पशुओं का भी बुरा हाल है। हरियाणा में तापमान में लगातार बढ़ोतरी हो रही है जिसकी वजह से आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। गर्मी की वजह से पशुओं कभी सिर चकरा जा रहा है। गर्मी से बचने के लिए इंसान स्विमिंग पूल या एसी में तो बैठ सकते हैं लेकिन पशु नहीं। पर अब ऐसा नहीं होगा हरियाणा में पशुओं के लिए भी अब स्विमिंग पूल बन रहा है। जिसमें वह गर्मी में ठंडे पानी का मजा उठा सकेंगे। इसमें एक बार में तीन से चार भैंसों को नहलाया जा सकेगा।

संवर्धन एवं संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा के हिसार में भैंसों के लिए स्विमिंग पूल बनाया गया है। इसमें गर्मी से परेशान भैंसें आराम से घंटों तक खड़ी रह सकती हैं। इसकेे साथ ही इसमें फव्वारे भी लगाए गए हैं जिसमे से ठंडे पानी की बौछारें निकलेगी।

जैसा की सबको पता है काले रंग के कपड़े हो या कुछ भी उसमें गर्मी ज्यादा महसूस होती है और भैंस का रंग तो वैसे भी काला ही होता है। इसलिए उन्हें ज्यादा गर्मी का सामना करना पड़ता है। ज्यादा गर्मी पड़ने की वजह से भैंसों में हीट स्ट्रेस होने का खतरा रहता है। अधिक गर्मी की वजह से दूध उत्पादन में भी कमी आ जाती है। वहीं इस दौरान गर्भवती भैंसों को और भी ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ती है।

केंद्रीय भैंस रिसर्च संस्थान के वैज्ञानिक डॉ. अनुराग भारद्वाज का कहना है कि गर्मियों के मौसम में तापमान बढ़ने पर दुधारू पशुओं को हीट स्ट्रेस की दिक्कत हो जाती है। भैंस का रंग काला होता है और इसलिए उसे इसका ज्यादा खतरा रहता है। काला रंग गर्म जल्दी होता है। पशुओं को इस समस्या से बचाने के लिए उन्हें खुले हवादार कमरे में रखा जाना चाहिए। भैंसों को गर्मी से बचाने के लिए हमने पूल का निर्माण किया है।

पशुओं का रखना होगा खास ध्यान

पशुओं को गर्मी से बचाने के साथ साथ कई अन्य बातों का भी ध्यान रखना चाहिए। पशुओं को समय-समय पर पानी पिलाना चाहिए। उनको पोष्टिक खाना खिलाएं। इसके साथ ही हरा चारा खिलाना चाहिए ताकि उनके शरीर में पानी की कमी ना हो।

कैसे पहचानें हीट स्ट्रेस की समस्या

डॉक्टर्स का कहना है कि दुधारू पशु गर्मियों में हाफना शुरू कर देते हैं। शरीर का तापमान भी बढ़ जाता है। डिहाइड्रेशन से पशु की खाल भी झुर्रीदार हो जाती है। पानी की कमी से आंखें भी अंदर धंस जाती हैं। पशुओं में सांस लेने की दर 35 स्वांस प्रति मिनट या इससे अधिक हो जाती है। इसकी वजह से पशु सुस्त होने लगता है। यदि ऐसे कोई भी लक्षण दिखें तो तुरंत अपने नजदीकी पशु चिकित्सक को दिखाएं।

Latest articles

Haryana के इस किसान ने सब्जी की खेती छोड़ शुरू किया ये काम, इसी की मदद से आज कमा रहा है लाखों रुपए

हरियाणा के किसान ज्यादातर सब्जी और अनाज की खेती करते हैं। लेकिन कुछ किसान ऐसे भी हैं जो सब्जी और अनाज की खेती करने...

Haryana के इस शख्स ने Social Media से प्रेरणा लेकर शुरू किया ये काम, जान कर आप भी करने लगेंगे तारीफ

आज के समय में लगभग सभी लोग Social Media का इस्तमाल करते हैं, वे ज्यादा तर Social Media का इस्तमाल मनोरंजन के लिए करते...

हरियाणा का फैमस Surajkund मेला हुआ शुरू, तीसरे दिन भी बरकार रहीं रौनक

बीते शुक्रवार यानि कि 3 फरवरी से हरियाणा का सबसे चर्चित Surajkund मेला शुरू हो गया हैं। इस बार मेले के तीसरे दिन भी...

Haryana मे अब आम जनता भी चला सकेंगी VIP नंबर के वाहन,सरकार ने VIP नंबरों की पॉलिसी में किया बड़ा बदलाव

अगर आप हरियाणा में रहते हैं और VIP नंबरों के वाहन चलाने के इच्छुक हैं तो,ये ख़बर आपके लिए सोने पर सुहागा जैसी है।...

Haryana मे अब आम जनता भी चला सकेंगी VIP नंबर के वाहन,सरकार ने VIP नंबरों की पॉलिसी में किया बड़ा बदलाव

अगर आप हरियाणा में रहते हैं और VIP नंबरों के वाहन चलाने के इच्छुक...

Haryana के उप मुख्यमंत्री ने Students को दिया उपहार, Digital Library के लिए देंगे इतने लाख रुपए

हरियाणा के Students के लिए एक बडी ही अच्छी ख़बर सामने निकल कर आई...

हरियाणा का फैमस Surajkund मेला हुआ शुरू, तीसरे दिन भी बरकार रहीं रौनक

बीते शुक्रवार यानि कि 3 फरवरी से हरियाणा का सबसे चर्चित Surajkund मेला शुरू...

More like this

Haryana के इस किसान ने सब्जी की खेती छोड़ शुरू किया ये काम, इसी की मदद से आज कमा रहा है लाखों रुपए

हरियाणा के किसान ज्यादातर सब्जी और अनाज की खेती करते हैं। लेकिन कुछ किसान...

Haryana मे अनोखे तरीके से दुल्हन को लेने पहुंचा दूल्हा, देखने के लिए लोगों की उमड़ी भीड़

अपनी शादी में सारे अरमान पूरे करना हर किसी का सपना होता है। अमीर...