Homeकुछ भीहरियाणा में सरसों से चलेगी गाड़ी, आधुनिक तकनीक का किया जाएगा इस्तेमाल

हरियाणा में सरसों से चलेगी गाड़ी, आधुनिक तकनीक का किया जाएगा इस्तेमाल

Published on

हरियाणा में सरकार अब सरसों में बायो डीजल का विकल्प तलाशेगी। इसके लिए काम शुरू हो गया है। विदेश में सरसों की तरह के पौधे रेपसीड (कैनोला) से तेल, खल और बायो डीजल बनाया जाता है। इसी तर्ज पर प्रदेश में सरसों पर शोध करके बायो डीजल के विकल्प को तलाशने का कार्य शुरू किया गया है। इटली और जर्मनी के दौरे से लौटे सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने बुधवार को पत्रकारों से विदेश दौरे के अनुभव साझा किए। उन्होंने बताया कि अनाज के भंडारण और उसे खराब होने से बचाने के लिए विदेश में अत्याधुनिक साइलो तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है।

इन्हीं तकनीकों का अध्ययन करने के लिए प्रतिनिधिमंडल यूरोप गया था। एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर मुख्यमंत्री मनोहर लाल को सौंपी जाएगी, ताकि यहां भी अनाज भंडारण के लिए साइलो तकनीक का इस्तेमाल किया जा सके।

डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि इटली और जर्मनी में किसान आर्गेनिक खेती की तरफ बढ़ रहे हैं। हमारे किसानों को आर्गेनिक खेती की तरफ बढ़ना चाहिए। शुरुआत में इस खेती से पैदावार जरूर कम होती है, लेकिन प्रदेश सरकार अलग-अलग योजनाओं के तहत किसानों को प्रोत्साहित कर रही है। भविष्य में यदि किसान आर्गेनिक खेती की तरफ बढ़ते हैं तो प्रदेश सरकार उनके लिए कोई नई योजना लेकर आ सकती है।

आमदनी के साथ-साथ अच्छा स्वास्थ

मंत्री के अनुसार इससे आमदनी के साथ-साथ लोगों को अच्छा स्वास्थ्य भी मिलेगा। संयुक्त राष्ट्र की फूड एग्रीकल्चर आर्गेनाइजेशन ने भी भारत में खेती से संबंधित तकनीकी सहायता प्रदान करने का भरोसा दिलाया है। किसानों को पैदावार से लेकर नई-नई तकनीक का प्रशिक्षण, उत्पाद को बेचने के लिए मार्केटिंग के प्रशिक्षण के लिए प्रदेश सरकार विदेशी संगठनों के सहयोग से इस विषय पर काम करेगी।

अनुबंध की खेती है बेहतर विकल्प

सहकारिता मंत्री ने कहा कि अनुबंध की खेती (कांट्रेक्ट फार्मिंग) किसानों के लिए बेहतर विकल्प हो सकती है। विदेश में बहुत से किसान समूह बनाकर खेती करते हैं। खेती से जुड़े अलग-अलग काम को श्रेणियों में विभाजित कर पूरा किया जाता है।

हमारे यहां भी किसानों को कांट्रेक्ट फार्मिंग के साथ-साथ समूह बनाकर खेती करनी चाहिए। किसान फसल को सीधे मंडी या बाजार में बेचने की बजाय खुद एफपीओ बनाकर फूड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित कर सकते हैं।

Latest articles

पहली बार हरियाणा सरकार ने दर्जन सरकारी विभागों को आपस में किया विलय, होगा मंत्रियों के विभागों में फेरबदल

हरियाणा सरकार इन दिनों जनता को सुविधा देने के लिए आए दिन कुछ ना कुछ नए कदम उठा रही है। अब करीब दो दर्जन...

1 जनवरी से NCR के शहरों में पंजीकृत होंगे सिर्फ़ सीएनजी व इलेक्ट्रिक ऑटो, जल्द बंद होंगे डीजल से चलने वाले ऑटो रिक्शा

देश में औद्योगीकरण और वाहनों के बढ़ते हुए प्रदूषण को देखते हुए सरकार ने एक फ़ैसला लिया है, जिसका सीधा असर ऑटो चालकों पर...

हरियाणा के इस जिले जल्द बनेगा अरावली वन्यजीवों के लिए नया रेस्क्यू सेंटर, इसमें बीमार जीवो को भी मिलेगा संरक्षण

हरियाणा में स्थित अरावली की पहाड़ियां विश्व की सबसे पुरानी पहाड़ियों में से एक है। इसके साथ ही अरावली की इन पहाड़ियों में कई...

हरियाणा में सोमवार को हो सकती है छुट्टी,ये होगी इस छुट्टी की वजह

आने वाले सोमवार यानि की 5 दिसंबर के लिए एक बार फिर से हरियाणा सरकार ने छुट्टी की घोषणा कर दी है। ये छुट्टी...

हरियाणा के अंबाला जिले में शादी से कुछ दिन पहले हुआ कुछ ऐसा, कि घरवालों की खुशी बदल गईं मातम में

शादी एक ऐसा समारोह होता जिसमे केवल घर, रिश्तेदार ही खुश नहीं होते बल्कि...

हरियाणा के CM ने स्क्रैप पॉलिसी को किया लागू,नए वाहन खरीदने पर भी लिया ये बड़ा फ़ैसला

अभी हाल ही में हरियाणा कैबिनेट की मीटिंग हुई है, जिसमेंहरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर...

हरियाणा के बेटे ने देश का नाम किया रोशन,यूथ बॉक्सिंग चैंपियनशिप में जीता गोल्ड मेडल

आज हमारे देश के नौजवान प्रगति में इतना आगे बढ़ रहें है कि, बाकी...

हरियाणा के इस जिले जल्द बनेगा अरावली वन्यजीवों के लिए नया रेस्क्यू सेंटर, इसमें बीमार जीवो को भी मिलेगा संरक्षण

हरियाणा में स्थित अरावली की पहाड़ियां विश्व की सबसे पुरानी पहाड़ियों में से एक...

More like this

हरियाणा में सोमवार को हो सकती है छुट्टी,ये होगी इस छुट्टी की वजह

आने वाले सोमवार यानि की 5 दिसंबर के लिए एक बार फिर से हरियाणा...

हरियाणा में पहली बार सामने आया अनोखा मामला, मुर्गियां को मारने पर हुई FIR

रोजाना खानें के लिए पूरे भारत में लाखों मुर्गियां कटती हैं, लेकिन आज तक...